5g फ़ोन हवाई जहाज में कुछ बड़ी हस्तक्षेप कर सकते हैं

5G Network

आप ने तो यह बहुत सुना होगा की 5G नेटवर्क कुछ जीवित प्राणियो के लिए एक हानिकारक हो सकता हैं। लेकिन हाल के एक रिपोर्ट के अनुसार यह बात सामने आयी हैं की 5G मोबाइल फ़ोन एक हवाई जहाज के ऊंचाई मापने वाले उपकरण में कुछ दखल अंदाजी कर सकते हैं। फ्रांस के नागरिक उड्डयन प्राधिकरण ने यह चेतावनी दी हैं की 5G नेटवर्क में ऑपरेट करने वाले मोबाइल को हवाई जहाज के अन्दर बंद रखा जाये या उन्हें एयरप्लेन मोड में डाल दिया जाएँ

फ्रांस नागरिक उड्डयन प्राधिकरण के एक प्रवक्ता ने कहा, “जहाज पर 5 जी उपकरणों के उपयोग से हस्तक्षेप के जोखिम पैदा हो सकते हैं, जो ऊंचाई रीडिंग में त्रुटियों का कारण बन सकते हैं।”

इस हस्तक्षेप का यह कारण हो सकता हैं की हवाई जहाज में प्रयोग किये जाने वाले एलिमिनिनेटर लगभग लगभग उसी आवृत्ति के तरंग पर काम करते हैं जो 5G मोबाइल्स के ऐन्टेना उपयोग में लेते हैं और कुछ मामलों में 5G मोबाइल्स से निकलने वाली तरंग हवाई जहाज में प्रयोग किये जाने वाले एलिमिनिनेटर से ज्यादा होती हैं।

यह हस्तक्षेप “उन उपकरणों में त्रुटियां पैदा कर सकता है जो लैंडिंग के दौरान बेहद महत्वपूर्ण हैं,” DGCA (नागर विमानन महानिदेशलय)ने ऐसा कहा। DGCA पिछले हफ्ते एयरलाइंस को इस मुद्दे पर एक चेतावनी भेजा, जिसमें यह कहा गया था कि उड़ान के दौरान 5 जी फोन को पूरी तरह से बंद कर दिया जाए या “हवाई जहाज मोड” में डाल दिया जाए।

कई देशो में यह पहले से इस बात का धयान रखा जाता हैं की उड़न के पहले सभी मोबाइल फ़ोन्स को एयरप्लेन मोड में रख दिया जाये या उन्हें पूरी तरीके से बंद कर दिया जाये। यह इस बात की चिंता के कारण किया जाता हैं क्योकि पुराने विमानों में उपयोग होने वाले मार्गदर्सन और उचाई का पता लगाने वाले उपकारो में मोबाइल के दूरसंचार उपकारो से कोई बाधा न पैदा हो।

नागर विमानन महानिदेशलय ने यह भी कहा की अगर विमान के किसी उपकरण के किसी भी प्रकार के हस्तक्षेप का पता लगता हैं तो उसके बारे में तुरंत ही हवाई-यातायात संचालन को विभाग इसकी सूचना दी जाये।

DGAC ने यह भी उल्लेख किया कि उसने जमीन के 5G बेस स्टेशनों की लोकेशन के लिए कुछ शर्ते रखी ताकि हवाई अड्डों पर उतरने के दौरान हस्तक्षेप के जोखिमों को सीमित किया जा सके।

फ्रांस के मुख्य हवाई अड्डे के मौजूद 5G उपकरणों के सिग्नल स्ट्रेंथ को सिमित कर दिया हैं ताकि उससे हवाई अड्डे में किसी भी तरह का हस्तक्षेप ना हों और फ्लाइट सुरक्षा को बढाई जा सके। DGCA फ्रांस के मुख्य एअरपोर्ट के समीप के 5G नेटवर्क उपकरणों और उनके लिए जिम्मेद्गर संसथाओपर भी नज़र रख रही हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here