भारत में 5G Trials के लिए टेलिकॉम ऑपरेटरों को स्पेक्ट्रम आवंटित गया।

मई 2021 के शुरुआत में ही दूरसंचार विभाग (DoT) ने बिना किसी चीनी OEM के भागीदारी के भारत में टेलीकॉम ऑपरेटरों को 5G नेटवर्क के परीक्षण को शुरू करने अनुमति दी थी। अभी हाल ही में 28 मई की यह खबर सुनने को मिली थी की उद्योग के सूत्रों के अनुसार, DoT ने भारत में 5G नेटवर्क का परीक्षण शुरू करने के लिए Airtel, Reliance Jio, Vi (Vodafone Idea), BSNL और MTNL सहित दूरसंचार कंपनियों को 5G स्पेक्ट्रम आवंटित कर दिया गया है।

DoT के अनुसार, 5G नेटवर्क से मौजूदा 4G नेटवर्क की तुलना में दस गुना बेहतर डाउनलोड स्पीड देने की उम्मीद है। इसके अलावा, इससे स्पेक्ट्रम एफिशिएंसी में भी सुधार होने की उम्मीद है। टेलीकॉम दिग्गज विभिन्न भारतीय सेटिंग्स में 5G नेटवर्क का परीक्षण करेंगे, जिसमें टेली-मेडिसिन, टेली-एजुकेशन और ड्रोन-आधारित कृषि निगरानी शामिल हैं।

“टेलीकॉम ऑपरेटरों को 700 मेगाहर्ट्ज बैंड, 3.3-3.6 गीगाहर्ट्ज़ (गीगाहर्ट्ज़) बैंड और 24.25-28.5 गीगाहर्ट्ज़ बैंड में विभिन्न स्थानों पर स्पेक्ट्रम आवंटित किया गया है।” ऐसा एक दूरसंचार कंपनी के एक अधिकारी ने PTI को एक बयान में कहा।

भारत के DoT ने यह भी उल्लेख किया है कि 5G परीक्षण चीनी ओईएम पर निर्भर नहीं होंगे, ऑपरेटरों को Huawei या ZTE से 5G उपकरण का उपयोग करने के लिए छोड़कर। नतीजतन, Jio देश में अपने 5G परीक्षणों का संचालन करने के लिए स्वदेशी तकनीक और उपकरणों का उपयोग करेगा, जबकि अन्य दूरसंचार ऑपरेटरों ने एरिक्सन, सैमसंग, नोकिया और सी-डॉट जैसी कंपनियों के साथ भागीदारी की है।

5G परीक्षण, जो लगभग छह महीने तक चलेगा, दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, बेंगलुरु और हैदराबाद सहित पूरे भारत के कई शहरों में होगा। साथ ही, इसका परीक्षण देश के शहरी, अर्ध-शहरी और साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में किया जाएगा। हालांकि, सूत्रों के अनुसार, दूरसंचार ऑपरेटरों को अभी तक हरियाणा, पंजाब और केंद्र शासित प्रदेश चंडीगढ़ जैसी जगहों पर स्पेक्ट्रम आवंटित नहीं किया गया है।

5G के इस परीक्षण के खबर को देखते हुए हम यह उम्मीद कर सकते हैं कि 2022 में भारतीय टेलिकॉम ऑपरेटर भी कमर्शियल रूप से 5G सेवा प्रदान करना शुरू कर देंगे। इसमें बहुत सी बातें धयान देने वाली होंगी जिसे हमने अपने आर्टिकल्स के माध्यम से साझा किया था, आप उन्हें निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके पढ़ सकते हैं।

हम 5G और दूरसंचार से जुड़े नए खबरे लेट रहेते हैं, दूरसंचार के दुनिया से जुड़े नए खबरे पाने के लिए Techjagran से जुड़े रहिये।

Leave a Comment